What is Abhyudaya Free Coaching Yojana-अभ्युदय फ्री कोचिंग योजना क्या है?

Abhyudaya Free Coaching Yojana-अभ्युदय फ्री कोचिंग योजना क्या है?

How can Apply for Abhyudaya Yojana? What is eligibility for Abhyudaya Yojana?

Apply for Abhyudaya Yojana

 

क्या है योजना और कब से शुरू होगी ?

24 जनवरी को यूपी के 71वें स्थापना दिवस के अवसर पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने घोषणा की।

प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने वाले प्रदेश के युवाओं के लिए सभी 18 मंडल मुख्यालयों में निशुल्क अभ्युदय कोचिंग सेंटर बसंत पंचमी (16 फरवरी) से शुरू हो जाएंगी। वहीं, देश-दुनिया में प्रदेश का नाम रोशन करने वाली पांच प्रतिभाओं को हर वर्ष यूपी गौरव सम्मान दिया जाएगा।

नोट-हर साल अगस्त माह में टेस्ट होगा

Abhyudaya Scheme के तहत किन प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कराई जायेगी?

UPSC  NEET  NDA  CDS  JEE

कुल 300 विद्यार्थियों का चयन होगा


कौन आवेदन कर सकता है ?

v इस योजना में आवेदन करने वाले छात्रों का उत्‍तर प्रदेश का मूल निवासी होना आवश्‍यक है।

v प्रदेश के आर्थिक रूप से कमजोर तथा गरीब परिवारों के युवा छात्र इस योजना के लिये पात्र मानें मायेंगें।

v लड़कों के साथ साथ लड़कियां भी इस योजना के तहत पात्र होंगीं।

v सभी धर्म व जाति के योग्‍य छात्र इस योजना के तहत पात्र मानें जायेंगें।

 

आवेदन कैसे करें ?

यदि आप यूपी की फ्री अभ्‍युदय कोचिंग योजना के तहत निशुल्‍क कोचिंग सेंटर में Admission लेना चाहते हैं, तो आपको आने वाली वसंत पंचमी का इंतजार करना होगा।

 

इन कोचिंग सेंटर में प्रवेश के लिये सरकार के द्धारा Abhyudaya Coaching Scheme Registration Form अथवा Online Appication Form उपलब्‍ध करायें जायेंगें।

 

कहाँ पर पढ़ना होगा ?

राज्य विश्वविद्यालयों व महाविद्यालयों के भवनों में संचालित इन कोचिंग सेंटरों में नीट, र्जेईई, एनडीए, सीडीएस व यूपीएससी के लिए निशुल्क शिक्षा दी जाएगी

 

 

कौन पढ़ाएगा ?

अभ्युदय देश की सबसे अच्छी कोचिंग व्यवस्था होगी जहां पर प्रदेश के अधिकारी अपनी सेवाएं देंगे। इसके लिए विषय विशेषज्ञों का पैनल तैयार किया जा रहा है।

यूपी अभ्‍युदय कोचिंग योजना के तहत Physical तथा Virtual कक्षायें संचालित की जायेंगीं। छात्र – छात्रायें निशुल्‍क कोचिंग सेंटर पर सं‍चालित कक्षाओं में उपस्थित होकर तथा Online Mode में वर्चुअल कक्षाओं के जरिये भी अपनी तैयारी कर सकेंगें।

 

क्या-क्या मिलेगा ?

इन अभ्यर्थियों को डिजिटल कंटेंट एक्सेस करने के लिए एक टेबलेट शिक्षण सामग्री एवं स्टाइपेंड के रूप में पांच माह तक रु प्रतिमाह दिए जायेंगे। 


क्या है उद्देश्य ?

दोस्‍तों, पिछले साल कोरोना महामारी के कारण प्रयागराज तथा राजस्‍थान के को‍टा शहर में प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे 30 हजार से ज्‍यादा छात्र छात्राओं वापस यूपी लाने में समस्‍या का सामना करना पड़ा था।


Mukhyamantri Abhyudaya Yojana 2021 के अंतर्गत कोचिंग प्राप्त करने के लिए छात्रों को किसी दूसरे राज्य में जाने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी। वह अपने राज्य एवं अपने जिले से कोचिंग प्राप्त कर सकते हैं। इस योजना के माध्यम से प्रदेश के होनहार छात्रों को आगे बढ़ने का अवसर प्राप्त होगा और वह अच्छी से अच्छी कोचिंग प्राप्त करके परीक्षा में बैठ पाएंगे।


Post a Comment

0 Comments