Pine Nuts Benefits,Uses and Side Effects in Hindi-चिलगोजा के फायदे,उपयोग और नुकसान

Pine Nuts Benefits,Uses and Side Effects in Hindi-चिलगोजा के फायदे,उपयोग और नुकसान

Benefits of Pine Nuts
Pine Nuts Benefits,Uses and Side Effects in Hindi
Pine Nuts Benefits,Uses and Side Effects in Hindi


Pine Nuts Benefits,Uses and Side Effects in Hindi

pine nuts benefits,chilgoza benefits,pine nuts health benefits,pine seeds benefits,chilgoza benefits for male,pine nuts benefits and side effects,pine nuts health benefits for male,chilgoza benefits for male in hindi,pine nuts benefits for hair,pine nuts benefits in hindi


Pine Nuts (Chilgoza) Benefits, Uses and Side Effects in Hindi
चिलगोजा एक नट है, जो पोषक तत्वों से भरपूर होता है। यह ज्यादा लोकप्रिय न होते हुए भी स्वास्थ्य संबंधी कई फायदे पहुंचा सकता है। इसे सेहत से जुड़ी कई समस्याओं में बेहतरीन तरीके से प्रयोग किया सकता है (1)। स्टाइलक्रेज के इस लेख में चिलगोजा से संबंधित सभी जानकारी दी जा रही है, जिसका प्रयोग कर आप इसके लाभ उठा सकते हैं। आइए, अब जानते हैं कि चिलगोजा क्या है, क्योंकि इसके सेवन से पहले यह जानना आपके लिए आवश्यक है।


विषय सूची-
  • चिलगोजा क्या हैं – What is Pine Nuts (Chilgoza) in Hindi
  • चिलगोजा के फायदे – Benefits of Pine Nuts in Hindi
  • क्या गर्भावस्था के दौरान चिलगोजा खाना अच्छा होता है?
  • चिलगोजा के पौष्टिक तत्व – Pine Nuts (Chilgoza) Nutritional Value in Hindi
  • चिलगोजे से बनने वाला एक व्यंजन
  • चिलगोज़े का चयन कैसे करे और लंबे समय तक सुरक्षित कैसे रखे?
  • चिलगोजा के नुकसान – Side Effects of Pine Nuts in Hindi
  • चिलगोजा क्या हैं – What is Pine Nuts (Chilgoza) in Hindi


चिलगोजा को अंग्रेजी भाषा में पाइन नट्स भी कहते हैं। चिलगोजा का प्रयोग प्राचीन-काल से होता आ रहा है, चिलगोजा को ‘नियोजा’ भी कहा जाता है। इसका वैज्ञानिक नाम ‘पाइनस गिरार्डियना’ है लेकिन चिलगोजा के फायदे और उपयोग के बारे में सटीक जानकारी न होने के कारण लोग धीरे-धीरे चिलगोजा से अनजान होते जा रहे हैं। आइए इस लेख के माध्यम से चिलगोजा के फायदे उपयोग और नुकसान और इसके उपयोग के बारे में जानते हैं।











चिलगोजा के फायदे–Benefits of Pine Nuts in Hindi

चिलगोजा के फायदे में स्वास्थ्य संबंधित कई फायदे शामिल हैं, जो चिलगोजा खाने के फायदे के महत्व को दर्शाते हैं।


1. मधुमेह में

मधुमेह जैसी बीमारी में खान-पान का विशेष ध्यान देना पड़ता है, लेकिन यदि आप चिलगोजा का सेवन कर रहे हैं तो निश्चिन्त रहिये क्योंकि और इसमें मौजूद पोषक तत्वों से मधुमेह की समस्या में होने वाले खतरों को कई गुना तक कम किया जा सकता हैं।



2. ह्रदय स्वास्थ्य में

चिलगोजा खाने का तरीका, हृदय स्वास्थ्य में भी लाभदायक हो सकता है। चिलगोजा एक नट है और एक वैज्ञानिक शौध के अनुसार नट पदार्थों का सेवन करने से हृदय संबंधित बीमारियों का खतरा कम हो सकता है। एक अन्य अध्ययन की मानें तो पाइन नट्स के अंदर मौजूद पोषक तत्व हृदय संबंधी कई रोगों में कमी देखी गई ।


चिलगोजा में कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने का गुण मौजूद होते हैं। एक वैज्ञानिक शोध के अनुसार चिलगोजा में मौजूद पॉली अनसैचुरेटेड फैट कोलेस्ट्रॉल को कम कर हृदय रोगों से सुरक्षा प्रदान कर सकते हैं।


3. कोलेस्ट्रॉल के लिए

चिलगोजा खाने का तरीका इस्तेमाल कर कोलेस्ट्रॉल को संतुलित किया जा सकता है, क्योंकि चिलगोजा में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा बिल्कुल भी नहीं होती है और यही वजह है कि चिलगोजा का सेवन करने से कोलेस्ट्रॉल में बढोत्तरी होने का खतरा कम हो सकता है (2)।


4. वजन संतुलित करने में-Pine Nuts To balance the weight in hindi

वजन नियंत्रित रखने में भी चिलगोजा खाने के फायदे देखे जा सकते हैं। एक वैज्ञानिक शोध के मुताबिक चिलगोजा से बने हुए तेल का सेवन वजन घटाने में अहम भूमिका निभा सकता है। दरअसल, चिलगोजा में पिनोलेनिक एसिड मौजूद होता है और यह 14 से 19 प्रतिशत फैटी एसिड को प्रदर्शित करता है। यह एसिड भूख को नियंत्रित कर वजन को कम करने में मदद कर सकता है (6)। एक अन्य वैज्ञानिक शोध के मुताबिक भी यह कहा गया है कि रोजाना नट पदार्थों के सेवन से वजन घटाने में मदद मिल सकती है (3)।


5. कैंसर में

चिलगोजे के फायदे कैंसर जैसी गंभीर बिमारी में भी देखने को मिल सकते हैं। एक वैज्ञानिक शोध के अनुसार, कैंसर जैसी बीमारी से बचने के लिए नट पदार्थों का सेवन लाभदायक हो सकता है (7)। शोध के अनुसार, पाइन नट्स में रेस्वेराट्रोल नमक एंटीऑक्सीडेंट मौजूद होता है, जो कैंसर के जोखिम को कम करने में मदद कर सकता है। वहीं, पाइन नट्स में उपस्थित फोलिक एसिड डीएनए (DNA) की क्षति को कम कर सकता है (8)।


6. मस्तिष्क स्वास्थ्य में

मस्तिष्क स्वास्थ्य में चिलगोजा खाने के फायदे प्रभावकारी रूप में देखे जा सकते हैं। एक वैज्ञानिक अध्ययन के अनुसार चिलगोजा में ओमेगा-3 एसिड पाया जाता है, जो मस्तिष्क की कोशिकाओं को बेहतरीन रूप से चलाने के लिए उपयोगी माना जाता है। चिलगोजा खाने से ओमेगा- 3 फैटी एसिड्स मस्तिष्क के बेहतरीन संचालन, याददाश्त को मजबूत बनाने का काम कर सकता है (9)।


7. हड्डियों के लिए-Pine Nuts For bones in hindi

चिलगोजा खाने के फायदे हड्डियों की मजबूती के लिए भी देखे जा सकते हैं, क्योंकि चिलगोजा में मौजूद फैटी एसिड हड्डियों के विकास और मजबूती में बड़ी भूमिका निभा सकते हैं। एक वैज्ञानिक अध्ययन के अनुसार चिलगोजा में पाया जाने वाला ओमेगा-6 फैटी एसिड्स हड्डियों को स्वस्थ रखने के साथ – साथ गठिया जैसे रोग में भी आराम पहुंचा सकता है (9)। इसके अलावा चिलगोजे के फायदे में कैल्शियम भी शामिल है जो हड्डियों की मजबूती और विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है (2) (10)।


8. प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए

प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए भी चिलगोजा का प्रयोग किया जा सकता है। एक वैज्ञानिक अध्ययन के अनुसार चिलगोजे में जिंक मौजूद होता है, जो प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ावा देने का काम करता है (9)।


9. आंखों की देखभाल के लिए

चिलगोजे के फायदे में आंखों की देखभाल भी शामिल हो सकते हैं। एक वैज्ञानिक शोध के मुताबिक आंखों की देखभाल के लिए अगर आप चिलगोजा का सेवन कर रहे हैं, तो इसमें मौजूद ओमेगा-3 आपकी आंखों की मदद कर सकता है। यह आपकी आंखों की नाईट विजन (दृष्टि) और कलर विजन की क्षमता का विकास कर सकता है (9)। इसके अलावा चिलगोजा में विटामिन- ए भी पाया जाता है, जो आंखों की रेटिना में रंजक (आंखों को विभिन्न रंगों को पहचानने की क्षमता) का विकास करता है (2), (11)। इसलिए आंखों की देखभाल के लिए चिलगोजा का प्रयोग किया जा सकता है।


10. एंटीऑक्सीडेंट के तौर पर

एंटीऑक्सिडेंट्स हमारी कोशिकाओं को नुकसान पहुंचने से बचाते हैं। अगर आप चिलगोजा का सेवन कर रहे हैं तो निश्चिंत हो जाइए, क्योंकि चिलगोजे में एंटीऑक्सीडेंट्स (विटामिन ए , विटामिन सी और विटामिन ई) भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं (2), (12) ।


11. भूख नियंत्रित रखने में

वजन को संतुलित रखने के लिए भी चिलगोजा खाने के फायदे देखे जा सकते हैं। जैसा कि हम ऊपर बता चुके हैं कि चिलगोजे में पिनोलेनिक नामक फैटी एसिड पाया जाता है, जो भूख को नियंत्रित करने का काम कर सकता है।

इसके अलावा एक वैज्ञानिक शोध में देखा गया है, कि पाइन नट दो खास हार्मोन सीसीके और जीएलपी-1 को बढ़ाने का काम करता है, जो भूख को नियंत्रित करने का काम कर सकते हैं (14)।


12. त्वचा के लिए-Pine Nuts for skin in hindi

त्वचा के लिए भी चिलगोजे के फायदे आपको लाभ पहुंचा सकते हैं। एक वैज्ञानिक अध्ययन के मुताबिक चिलगोजा का इस्तेमाल त्वचा के लिए फायदेमंद हो सकता है, क्योंकि यह विटामिन-सी (एस्कॉर्बिक एसिड) का स्रोत होता है। विटामिन सी एक एंटीऑक्सीडेंट्स है, जो सूर्य की हानिकारक किरणों से त्वचा की रक्षा करता है। साथ ही विटामिन सी त्वचा में कोलेजन को बढ़ाता है और एजिंग को कम करता है (2),(15)। वहीं डॉक्टरों की मानें तो यह बायोटिन (बी 7) का अच्छा स्त्रोत होता है, जो त्वचा के लिए फायदेमंद हो सकता है।



13. बालों के स्वास्थ्य के लिए

बालों के स्वास्थ्य के लिए भी चिलगोजा खाने के फायदे देखे जा सकते हैं। चिलगोजे में पाया जाने वाला ओमेगा-3 और ओमेगा-6 फैटी एसिड बालों के विकास के लिए उपयोगी हो सकता है (9)। एक वैज्ञानिक अध्ययन के अनुसार, ओमेगा-6 फैटी एसिड बालों को झड़ने से रोकने में मदद करता है और बालों को घना बनाने में भी सहयोग कर सकता है।


क्या गर्भावस्था के दौरान चिलगोजा खाना अच्छा होता है-Is chilgoza good during pregnancy

चिलगोजा जिंक जैसे पोषक तत्व से समृद्ध होता है और जिंक गर्भावस्था के दौरान भ्रूण के विकास में मदद कर सकता है (9)। गर्भावस्था के दौरान पाइन नट्स का सेवन किया जा सकता है, लेकिन इस दौरान इसे एक दिन में तीन से चार बार ही खाने की सलाह दी जाती है। दिनभर में 30 से 50 ग्राम पाइन नट्स का सेवन किया जा सकता है (17)। डॉक्टरों की मानें तो इस खुराक को महिला पूरे दिन में दो से तीन बार में विभाजित कर अपनी सहूलियत के हिसाब से ले सकती है।








Post a Comment

0 Comments